जूस की दुकान से शुरू हुआ था गुलशन कुमार का सफर, अंडरवर्ल्ड ने मंदिर के बाहर गोलियों से भून दिया

0
249

गुलशन कुमार हमारे देश की म्यूजिक इंडस्ट्री का सबसे बड़ा नाम है. Youtube पर सबसे ज्यादा सब्सक्राइब किया जाने वाले चैनल टी सीरीज की कंपनी इन्होने ही स्थापित की थी. लेकिन इतना बड़ा सेलेब्रिटी होने के बावजूद इनका अंत बहुत बुरा हुआ था. आज हम आपको गुलशन कुमार की ज़िन्दगी के बारे में बताने जा रहे है. इनका जन्म 5 मई 1956 में हुआ था.

गुलशन कुमार कभी एक जूस की दूकान लगाया करते थे. वे दिल्ली की एक पंजाबी फॅमिली में जन्मे थे और एक दिन ये कैसेट किंग के नाम से जाने जाने लगे. टी सीरीज के संस्थापक गुलशन कुमार वो शख्सियत हैं, जिन्हें बॉलीवुड ही नहीं लोग भी नहीं भूल पाए हैं। वे लोगों की नजरों में उस वक्त आए थे, जब उन्होंने देश में कैसेट के साम्राज्य को खड़ा करने में अहम भूमिका निभाई

गुलशन को बचपन से ही म्यूजिक का शौक था, इसलिए वे ओरिजनल गानों को खुद की आवाज में रिकॉर्ड करके उन्हें कम दाम में बेचते थे। गुलशन को जब दिल्ली में तरक्की के आसार नहीं दिखे तब उन्होंने मुंबई जाने का फैसला लिया. और उन्होंने टी सीरीज कंपनी खोली जो आज हिंदुस्तान की सबसे बड़ी म्यूजिक कंपनी है.

12 अगस्त 1997 को मुंबई अंडरवर्ल्ड ने गुलशन कुमार की गोलियों से भुनकर हत्या कर दी थी. हत्या का आरोप अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम और उसके गुर्गों पर लगा और 2017 में आरोपी अब्दुल रऊफ को गिरफ्तार किया गया। हालांकि, उस वक्त उनकी हत्या के लिए संगीत निर्देशक नदीम को भी जिम्मेदार माना जा रहा था। साल 2001 में रऊफ ने अपना गुनाह कबूल लिया और अप्रैल 2002 में उसे आजीवन कारावास की सजा सुनाई गई। इस बीच रऊफ जेल से फरार हो गया और वह बांग्लादेश भाग गया।

गुलशन कुमार की हत्या के बाद उनका पूरा परिवार बिखर चुका था और सारी जिम्मेदारी बेटे भूषण कुमार पर आ गई. भूषण ने अपने पिता के कारोबार को बखूबी आगे बढाया है. गुलशन के नाम से वैष्णो देवी में भंडारा भी कराया जाता है। इतना ही नहीं बेटे भूषण ने वैष्णो देवी मंदिर में ही बॉलीवुड एक्ट्रेस दिव्या खोसला से शादी की थी। गुलशन कुमार की एक बेटी तुलसी कुमार प्लेबैक सिंगर और दूसरी बेटी खुशाली कुमार मॉडल और डिजाइनर हैं।

Source: Bollywood Papa

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here